विदेश की खबरें | अमेरिका में भारत के राजनयिक संधू ने की डॉ. फाउची से मुलाकात

वाशिंगटन, पांच मई अमेरिका में भारत के राजनयिक तरणजीत सिंह संधू ने अमेरिका के शीर्ष जनस्वास्थ्य विशेषज्ञ डॉ. एंथनी फाउची से डिजिटल माध्यम से मुलाकात की और भारत में कोविड-19 संकट एवं संक्रमण के नए स्वरूपों (स्ट्रेन एवं वेरिएंट) के खिलाफ टीकों के प्रभावी होने को लेकर वार्ता की।

राजनयिक अमेरिका में स्वास्थ्यसेवा और वैश्विक महामारी के खिलाफ कार्रवाई से जुड़े लोगों से संपर्क कर रहे हैं। यह पहली बार है, जब किसी शीर्ष भारतीय सरकारी अधिकारी ने फाउची से मुलाकात की है। फाउची वैश्विक महामारी से जुड़े मामलों के लिए अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन के शीर्ष सलाहकार हैं।

बैठक के दौरान फाउची ने संकट के इस समय में भारत के प्रति एकजुटता एवं सहयोग व्यक्त किया।

इससे एक दिन पहले ही फाउची ने कोविड-19 की दूसरी लहर से बुरी तरह प्रभावित हुए भारत में हालात को ‘‘बहुत निराशाजनक’’ करार दिया था और भारत सरकार को अस्थायी फील्ड अस्पताल तत्काल बनाने के लिए सैन्य बलों समेत सभी संसाधनों का इस्तेमाल करने की सलाह दी थी। उन्होंने अन्य देशों से भी अपील की थी कि वे भारत की मदद के लिए केवल सामग्री ही नहीं, बल्कि कर्मी भी मुहैया कराएं।

अमेरिका के ‘नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ’ में ‘नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ अलर्जी एंड इन्फेक्शियस डिसीसेज’ के निदेशक फाउची ने अनुसंधान एवं विकास समेत विभिन्न मामलों में अमेरिकी सहायता देने की पेशकश की है।

संधू ने ट्वीट किया, ‘‘हमने वायरस के स्वरूपों, टीकों, कार्रवाई तंत्र और विकास एवं अनुसंधान समेत विभिन्न क्षेत्रों में संयुक्त प्रयासों पर चर्चा की। मैंने एकजुटता जताने के लिए उन्हें धन्यवाद दिया।’’

फाउची ने याद किया कि अमेरिका में जब संक्रमण अपने चरम पर था तो इससे निपटने के लिए क्या नीतियां अपनाई गई थीं।

इस दौरान स्वास्थ्यसेवा, खासकर वैश्विक महामारी के संदर्भ में संयुक्त अनुसंधान को मजबूत करने पर भी चर्चा की गई।

इससे पहले, संधू ने अमेरिका के गृह मंत्री एलेजांद्रो मयोरकास से भी बात की। इस दौरान मयोरकास ने वैश्विक महामारी के खिलाफ भारत की लड़ाई में बाइडन प्रशासन की ओर से पूरी मदद मुहैया कराए जाने की प्रतिबद्धता दोहराई।

मयोरकास से फोन पर बातचीत के बाद संधू ने ट्वीट किया कि वह गृह मंत्रालय की ओर से की गई ‘‘सहयोग की पेशकश और मजबूत एकजुटता की बहुत सराहना’’ करते हैं।

दो भारतीय-अमेरिकी सांसदों रो खन्ना और राजा कृष्णमूर्ति ने भारत को और अमेरिकी सहायता मुहैया कराने के लिए एक और अपील की।

भारत में एक दिन में कोविड-19 से रिकॉर्ड 3,780 लोगों की मौत के बाद इस बीमारी से जान गंवाने वालों की संख्या 2,26,188 हो गई है जबकि एक दिन में संक्रमण के 3,82,315 नये मामले सामने आए हैं। इन नये मामलों के बाद कोविड-19 के कुल मामले बढ़कर 2,06,65,148 हो गए हैं।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)