देश की खबरें | भारत, यूएई ने प्रवासन, आवागमन से संबंधित समझौते को जल्द अंतिम रूप देने पर चर्चा की

नयी दिल्ली, 15 मई भारत और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने दोनों देशों के बीच लोगों के आपसी संपर्क को बढ़ावा देने के तरीकों के अलावा प्रवासन और आवागमन से संबंधित समझौतों को शीघ्र अंतिम रूप देने पर चर्चा की है।

नयी दिल्ली में मंगलवार को राजनयिक मामलों की संयुक्त समिति (जेसीसीए) की पांचवीं बैठक आयोजित की गई। विदेश मंत्रालय ने कहा कि दोनों पक्षों ने इस बैठक में श्रम, वीजा, प्रवासन, नागरिकता और प्रत्यर्पण सहित अन्य मुद्दों पर समन्वय और सहयोग को मजबूत करने के तंत्र पर व्यापक चर्चा की।

मंत्रालय ने कहा, ‘‘दोनों पक्षों ने पारस्परिक हित के अन्य मुद्दों पर भी चर्चा की, जिसमें लोगों के बीच बेहतर संपर्क को बढ़ावा देने के लिए वीजा सुविधा और प्रवासन तथा आवागमन से संबंधित समझौतों को जल्द पूरा करना शामिल है।’’

मंत्रालय ने कहा कि यूएई ने भारतीय प्रवासी श्रमिकों के कल्याण को सुनिश्चित करने के लिए सरकार द्वारा उठाए गए विभिन्न कदमों के बारे में विस्तृत जानकारी दी।

मंत्रालय ने कहा, ‘‘दोनों देशों के बीच संबंधों में राजनीतिक, आर्थिक, व्यापार, वाणिज्य, रक्षा, सांस्कृतिक, प्रौद्योगिकी और ऊर्जा, लोगों के आपसी संपर्क समेत आपसी सहयोग के सभी क्षेत्र शामिल हैं।’’

पिछले कुछ वर्षों में दोनों देशों के बीच संबंध लगातार प्रगाढ़ हो रहे हैं। यूएई में वर्तमान में 35 लाख से अधिक भारतीय रहते हैं।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)