विदेश की खबरें | यौन शोषण के मामलों में वृद्धि पर दिए गए बयान पर इमरान खान की पूर्व पत्नी ने की आलोचना

इस्लामाबाद, आठ अप्रैल पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की पूर्व पत्नी जेमिमा गोल्डस्मिथ ने पूर्व क्रिकेटर के उस बयान की आलोचना की है, जिसमें उन्होंने देश में बलात्कार और यौन उत्पीड़न की घटनाओं में वृद्धि के लिए महिलाओं के “अनुचित” पहनावे को जिम्मेदार ठहराया था।

गोल्डस्मिथ ने ट्विटर पर लिखा, “मैं उम्मीद करती हूं कि यह गलत अनुवाद है या गलत उद्धृत किया गया है। मैं जिस इमरान को जानती थी वह कहता था, ‘मर्द की आंखों पर पर्दा डालो, औरत की नहीं।”

जेमिमा (47) ने कुरान का भी हवाला देते हुए कहा कि मर्दों को अपनी आंख ढंकना जरूरी है। उन्होंने एक ब्रिटिश अखबार की एक खबर को भी साझा किया जिसमें खान ने बलात्कार के मामलों में वृद्धि के लिए महिलाओं के पहनावे को जिम्मेदार ठहराया है।

इससे पहले 68 वर्षीय खान ने लोगों से टेलीफोन पर हुई बातचीत के सत्र के दौरान अश्लीलता और यौन उत्पीड़न के बीच संबंधों पर बात की थी।

खान से एक व्यक्ति ने पूछा था कि यौन हिंसा की बढ़ती घटनाओं को रोकने के लिए सरकार क्या कदम उठा रही है। इसके जवाब में खान ने कहा था कि इस्लाम में पर्दा का सिद्धांत है जिससे इच्छाएं काबू में रहती हैं।

उन्होंने कहा था कि समाज में ऐसे बहुत लोग है जो अपनी इच्छाओं पर काबू नहीं रख पाते हैं और ‘‘यह किसी रूप में प्रकट होती है।’’

पाकिस्तान में अधिकारों के लिए काम करने वाली संस्थाओं ने भी खान के बयान की आलोचना की है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)