देश की खबरें | गुजरात के मुख्यमंत्री पटेल रात भर एक गांव में ठहरे, युवाओं से नशे से दूर रहने की अपील की

बनासकांठा (गुजरात), 12 फरवरी गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने बनासकांठा जिले के जलोत्रा गांव के निवासियों से ड्रिप सिंचाई और जैविक खेती अपनाने का अनुरोध किया था तथा युवाओं से नशे से दूर रहने और पढ़ाई करने की अपील की।

'ड्रिप सिंचाई’ सिंचाई की एक विशेष विधि है जिसमें पानी और खाद की बचत होती है। इस विधि में पानी को पौधों की जड़ों पर बूंद-बूंद करके टपकाया जाता है।

पटेल सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के ‘गांव चलो’ अभियान के तहत इस गांव में एक रात ठहरे।

पटेल ने गांव में एक मंदिर में पूजा-अर्चना कर शनिवार को इस अभियान की शुरुआत की और वहां स्वच्छता अभियान में भाग लिया।

उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा सरकार जिस उत्साह से काम कर रही है, उसे देखते हुए निकट भविष्य में सभी लंबित काम पूरे हो जाएंगे।’’

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मजबूत नेतृत्व में हर किसी को पार्टी को मजबूत बनाने के लिए काम करना चाहिए ताकि ‘विकसित भारत के साथ विकसित गुजरात’ का नारा साकार किया जा सके।

एक सरकारी विज्ञप्ति में कहा गया कि पटेल ने स्थानीय नेता दिनेशभाई भटोला के परिवार के सदस्यों के साथ रात्रि भोज किया।

इस पहल के जरिए भाजपा का मकसद आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर गुजरात के सभी बूथ में अपना आधार मजबूत करना है।

विज्ञप्ति में कहा गया है कि राज्य में 10-11 फरवरी के दौरान ‘गांव चलो अभियान’ के तहत मंत्रियों और विधायकों समेत कुल 56,700 पार्टी कार्यकर्ताओं को अलग-अलग बूथ का जिम्मा सौंपा गया।

इसमें कहा गया है कि मुख्यमंत्री पटेल ने रविवार सुबह किसानों, युवाओं, महिलाओं और विभिन्न समुदायों के नेताओं से मुलाकात की और विभिन्न सरकारी योजनाओं पर चर्चा की।

उन्होंने किसानों से ड्रिप सिंचाई और जैविक खेती को अपनाने का अनुरोध किया तथा युवाओं से नशे से दूर रहने की अपील की।

भाजपा ने 2019 में राज्य में सभी 26 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज की थी।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)