देश की खबरें | सरकार को किसानों का कर्ज माफ करना चाहिये और चुनाव का सामना करना चाहिए : उद्धव

छत्रपति संभाजीनगर, 12 फरवरी शिवसेना (यूबीटी) नेता उद्धव ठाकरे ने सोमवार को केंद्र सरकार से किसानों का फसल ऋण माफ करने और लोकसभा चुनाव का सामना करने की अपील की।

गंगापुर में एक रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने दावा किया कि महाराष्ट्र में किसानों को फोन किए जा रहे हैं और उनसे पूछा जा रहा है कि क्या वे आगामी चुनाव में भाजपा को वोट देंगे।

उन्होंने कहा, ‘‘जब मैं मुख्यमंत्री था तब मैंने महाराष्ट्र में किसानों के लिए दो लाख रुपये तक की कर्ज माफी की घोषणा की थी और इसे लागू भी किया था। अगर मैं महाराष्ट्र में किसानों का कर्ज माफ कर सकता हूं तो पिछले दस साल से केंद्र में सत्ता में रही भाजपा सरकार ऐसा क्यों नहीं कर सकती । सरकार को ऋण माफी देनी चाहिए और फिर इसके बाद चुनाव का सामना करना चाहिए ।’’

शिवसेना (यूबीटी) नेता ने दावा किया कि उनके पास एक फोन कॉल की रिकॉर्डिंग है जिसमें एक किसान ने फोन करने वाले से राज्य में सोयाबीन उत्पादकों की मदद के लिए केंद्र द्वारा अब तक उठाए गए कदमों के बारे में सवाल किया।

किसानों के विभिन्न संगठनों ने अपनी उपज के लिए एमएसपी (न्यूनतम समर्थन मूल्य) की गारंटी देने वाले कानून की मांग के लिए 13 फरवरी को दिल्ली मार्च का आह्वान किया है, जो उन्होंने तब निर्धारित की थी जब 2021 में उन्होंने अपना आंदोलन वापस लिया था।

ठाकरे ने आरोप लगाया, "केंद्र सरकार ने खेती की लागत से 50 प्रतिशत अधिक कीमत देने के अपने वादे पर काम नहीं किया है। मोदी की गारंटी भ्रष्ट नेताओं को भाजपा में शामिल होने के बाद विधायक और सांसद बनाना है।"

उन्होंने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाली शिवसेना के सदस्यों को लोगों के सामने खड़े होने और बाल ठाकरे द्वारा स्थापित पार्टी के वास्तविक उत्तराधिकारी के बारे में उनके विचार जानने की चुनौती दी।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)