देश की खबरें | सद्भावनाः भारत, नेपाल, श्रीलंका के सशस्त्र बल के जवान लुम्बिनी से कोलंबो तक का सफर तय करेंगे

नयी दिल्ली, 16 मई भारत, श्रीलंका और नेपाल के सशस्त्र बलों के जवान दक्षिण एशियाई देशों के बीच संबंधों को मजबूत करने और सद्भावना को बढ़ावा देने के लिए बुद्ध सर्किट के जरिए लुम्बिनी से कोलंबो तक का सफर बाइक से तय करेंगे।

‘हार्टफुलनेस बुद्ध सर्किट राइड’ (एचबीसीआर) के सह संयोजक राहुल पाटिल ने कहा कि नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दाहाल प्रचण्ड 23 मई को बुद्ध जयंती पर गौतम बुद्ध की जन्मस्थली लुम्बिनी से ‘हार्टफुलनेस बाइक अभियान’ को हरी झंडी दिखाएंगे।

उन्होंने बताया कि यह अभियान 16 जून को श्रीलंका के कोलंबो में संपन्न होगा।

श्रीलंका सरकार ने भारत और नेपाल की सरकारों के सहयोग से यह पहल की है। इस अभियान में तीन देशों के सशस्त्र बलों के 15 मोटरसाइकिल सवार होंगे जो गौतम बुद्ध से जुड़े विविध परिदृश्यों और ऐतिहासिक स्थलों से होकर गुजरेंगे।

यह अभियान सात राज्यों से गुजरेगा और भारतीय नौसेना के जहाज के जरिये चेन्नई से श्रीलंका के जाफना जिले के कांकेसंथुराई तक जाएगा, जहां से यह सड़क मार्ग से द्वीपीय राष्ट्र की राजधानी कोलंबो तक जाएगा।

पाटिल ने कहा कि श्रीलंका के प्रधानमंत्री दिनेश गुणवर्धने द्वीप के कांकेसंथुराई में बाइक सवारों का स्वागत करेंगे जबकि राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे 16 मई को कोलंबो में अभियान के समापन समारोह में शामिल होंगे।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)