देश की खबरें | मुस्लिम महिलाओं पर अश्लील टिप्पणी करने वालों के खिलाफ डीसीडब्ल्यू के नोटिस के बाद प्राथमिकी दर्ज

नयी दिल्ली, 18 जनवरी दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) ने मंगलवार को साइबर अपराध प्रकोष्ठ, दिल्ली पुलिस को एक नोटिस जारी कर एक ऐप पर कथित रूप से ‘‘मुस्लिम महिलाओं के खिलाफ अश्लील टिप्पणी करने’’ वाले लोगों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करने को कहा। इसके बाद अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है।

आयोग ने अपने नोटिस में कहा कि उसने ट्विटर पर ऑनलाइन पोस्ट किए गए एक वीडियो का संज्ञान लिया है, जिसमें ‘मुस्लिम लड़कियां हिंदू लड़कियों से ज्यादा खूबसूरत होती हैं’ विषय पर ‘क्लब हाउस’ की बातचीत को दिखाया गया है।

इसमें कहा गया है कि उक्त बातचीत में, प्रतिभागियों को मुस्लिम महिलाओं और लड़कियों को लक्षित करते हुए अश्लील और अपमानजनक टिप्पणी करते हुए स्पष्ट रूप से सुना जा सकता है।

आयोग ने मामले पर कड़ा संज्ञान लिया और दिल्ली पुलिस से इसमें शामिल लोगों के खिलाफ तत्काल और कठोर कार्रवाई की मांग की है।

डीसीडब्ल्यू ने पुलिस से तुरंत प्राथमिकी दर्ज करने और आरोपियों को गिरफ्तार करने को कहा।

आयोग ने विस्तृत कार्रवाई रिपोर्ट सौंपने के लिए दिल्ली पुलिस को पांच दिन का समय दिया है।

डीसीडब्ल्यू की प्रमुख स्वाति मालीवाल ने कहा, ‘‘क्लबहाउस ऐप पर विस्तृत ऑडियो बातचीत में मुस्लिम महिलाओं और लड़कियों को निशाना बनाया गया और उनके खिलाफ घृणित यौन टिप्पणियां की गईं। मैं इस बात से व्यथित हूं कि देश में ऐसी घटनाएं बढ़ रही हैं। सबसे जरूरी बात यह है कि दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जरूरत है और इसलिए मैंने दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी कर मामले में तत्काल प्राथमिकी दर्ज करने और गिरफ्तारी की मांग की है।’’

इस बीच, पुलिस उपायुक्त (इंटेलिजेंस फ्यूजन एंड स्ट्रेटेजिक ऑपरेशन) के पी एस मल्होत्रा ने कहा कि इस मामले में भारतीय दंड संहिता की प्रासंगिक धाराओं में प्राथमिकी दर्ज की गई है तथा मामले की जांच जारी है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)