खेल की खबरें | घरेलू टेस्ट श्रृंखला में ऑस्ट्रेलिया के अधिक उम्र वाले खिलाड़ियों पर थकान हावी थी: वॉन

लंदन, 13 फरवरी   इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन का मानना है कि वेस्टइंडीज के खिलाफ हालिया घरेलू टेस्ट श्रृंखला में ऑस्ट्रेलिया पर थकान हावी दिखी और अगर यही खिलाड़ी अगले साल एशेज श्रृंखला में शामिल रहेंगे तो चिर प्रतिद्वंद्वी इंग्लैंड के पास जीत दर्ज करने का शानदार मौका होगा।

  वॉन ने कहा कि मौजूदा ऑस्ट्रेलियाई टीम के अधिकांश खिलाड़ी उम्रदराज हैं और विश्व क्रिकेट पर दबदबा बनाए रखने के लिए उन्हें नयी प्रतिभा को मौका देने का समय आ गया है।

ऑस्ट्रेलिया ने हाल ही में वेस्ट इंडीज के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की श्रृंखला ड्रॉ खेली है। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया में वेस्टइंडीज का रिकॉर्ड काफी खराब रहा है।

वॉन ने ‘द टेलीग्राफ’ के अपने कॉलम में लिखा, ‘‘ऑस्ट्रेलिया में इस बात को लेकर ज्यादा आशावाद नहीं था कि यह एक शानदार घरेलू टेस्ट सत्र होगा क्योंकि दौरा करने वाली दो टीमों, पाकिस्तान और वेस्टइंडीज का वहां पर रिकॉर्ड खराब रहा है।  यह (दोनों श्रृंखला) वास्तव में बहुत प्रतिस्पर्धी थी, जैसा कि गाबा में वेस्टइंडीज़ की शानदार जीत से साबित हुआ।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ब्रिसबेन में ऑस्ट्रेलिया की हार से मुझे लगा कि इंग्लैंड के पास 2025-26 में एशेज जीतने का शानदार मौका होगा।’’

वॉन ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया को युवा खिलाड़ियों को मौका देने के साथ गेंदबाजों को बीच-बीच में विश्राम देने के बारे में भी सोचना होगा।

उन्होंने कहा, ‘‘ उस समूह में कुछ नये चेहरे और नयी मानसिकता लाने के लिए उन्हें अपनी शानदार गेंदबाजी इकाई को रोटेट करना शुरू करना होगा। उनके पास नाथन लियोन का कोई विकल्प नहीं है, जो उस श्रृंखला तक 38 वर्ष के हो जाएंगे और पहले से ही मांसपेशियों की चोटों से परेशान हैं।’’

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)