देश की खबरें | सिंघु बॉर्डर से हरियाणा में प्रवेश बंद, सोनीपत पुलिस ने जारी किया यातायात परामर्श

सोनीपत(हरियाणा), 13 फरवरी किसानों के ‘दिल्ली कूच’ के मद्देनजर हरियाणा के इस जिले को राष्ट्रीय राजधानी से जोड़ने वाले सिंघु बॉर्डर को सोनीपत पुलिस एवं दिल्ली पुलिस द्वारा संयुक्त रूप से सील कर दिया गया है।

पुलिस ने बताया कि सिंघु बॉर्डर पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई और दिल्ली व सोनीपत दोनों ही तरफ से वाहनों का आवागमन पूरी तरह से बंद कर दिया गया है।

पुलिस ने एक परामर्श जारी कर कहा कि राष्ट्रीय राजमार्ग (एनएच) 44 के रास्ते अब दिल्ली में किसी भी वाहन का प्रवेश नहीं हो रहा है और छोटे बड़े सभी वाहनों को दूसरे रास्तों से भेजा जा रहा है।

वहीं, बॉर्डर पर पुलिस बल पूरी तरह से अलर्ट है तथा दिल्ली की तरफ जा रहे वाहनों की हर रास्ते पर कड़ी जांच हो रही है तथा ड्रोन से भी स्थिति की निगरानी की जा रही है।

परामर्श में लोगों से कहा गया है कि वे दिल्ली से पानीपत जाने के लिए गन्नौर चौक से गन्नौर शहर होते हुए गांव गुमड़, कैलाना, खानपुर, गोहाना से रोहतक-पानीपत राजमार्ग का प्रयोग करें और मुरथल बाईपास से एनएच-352ए के रास्ते बड़वासनी, मोहाना, गोहाना होते हुए रोहतक-पानीपत राजमार्ग से पहुंचें।

उसमें कहा गया है कि दिल्ली जाने के लिए मुरथल बाईपास होते हुए बड़वासनी नहर के रास्ते नवनिर्मित एनएच 344पी से बवाना निकलें और बीसवां मील चौक से वाया जठेड़ी, बारोटा चौकी, सफियाबाद होकर नरेला में प्रवेश करें।

परामर्श में कहा गया है कि बीसवा मील चौक गांव जठेडी, बारोटा चौकी, नाहरी, लामपुर बॉर्डर से एनएच 44 से नाथूपुर मोड़ से गांव सबौली, आइटीबीपी कैंप से नरेला पहुंचे तथा केएमपी से पिपली टोल, सैदपुर होते हुए औचंदी बॉर्डर से दिल्ली जाएं तथा केजीपी के रास्ते खेकड़ा, लोनी बॉर्डर से दिल्ली में प्रवेश करें।

वहीं, पुलिस ने बॉर्डर पर छह स्तरीय बैरिकेडिंग लगानी शुरू कर दी है जिसमें क्रेन की मदद से क्रंक्रीट के ब्लॉक को सड़क पर दोनों तरफ रखवाया गया है। इसके साथ ही बड़े बड़े कंटेनर भी रखवाए गए है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार, लगभग एक हजार से अधिक पुलिस कर्मी सिंघू बॉर्डर पर तैनात रहेंगे।

पुलिस आयुक्त बी सतीश बालन ने आमजन से अनुरोध किया है , “एनएच 44 पर जाने से बचें। केवल अति आवश्यक परिस्थिति में ही दिल्ली के लिए यात्रा करें।”

उन्होंने कहा, “किसानों के काफिले को सोनीपत की सीमा से पहले ही रोकने की पूरी तैयारी कर ली गई है। किसी भी तरह की हिंसात्मक गतिविधियों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।”

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) मुकेश जाखड़ ने बताया कि गन्नौर के हल्दाना बॉर्डर पर सोनीपत पुलिस द्वारा पुख्ता इंजाम किए गए हैं तथा इसके साथ साथ कुंडली बॉर्डर पर सोनीपत पुलिस तथा दिल्ली पुलिस और अर्धसैनिक बल के साथ छह स्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गयी है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)