देश की खबरें | कोरोना कर्फ्यू की अवधि दो और दिनों के लिए बढ़ी, सोमवार सुबह सात बजे तक लागू रहेगा

लखनऊ, पांच मई उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुये सप्ताहांत पर लगाए गए कोरोना कर्फ्यू की अवधि बुधवार को दो और दिनों के लिए 10 मई सुबह सात बजे तक बढ़ा दी है ।

सरकारी प्रवक्ता ने बुधवार को यहां बताया कि कोरोना कर्फ्यू पिछले शुक्रवार को रात आठ बजे से मंगलवार सुबह सात बजे तक लगाया गया था, जिसे तीन मई को 48 घंटे के लिये बढ़ा कर छह मई की सुबह सात बजे तक कर दिया गया था । अब इसे बढ़ कर सोमवार (10 मई) सुबह सात बजे तक कर दिया गया है ।

उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने फैसला प्रदेश में कोरोना संक्रमण की श्रंखला को तोड़ने के अपने प्रयासों के तहत लिया है।

प्रवक्ता ने बताया कि इस इस अवधि में आवश्यक और अनिवार्य सेवाएं जैसे कि दवा, सब्जी की दुकानें, औद्योगिक इकाइयां वगैरह जारी रहेंगी,और टीकाकरण का काम भी जारी रहेगा ।

प्रदेश सरकार ने 29 अप्रैल को सप्ताहांत (सप्ताह के अंतिम दिनो में) कोरोना कर्फ्यू लगाने की घोषणा की थी और सरकार ने इसे लॉकडाउन का नाम नही दिया है ।

कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने में आंशिक कोरोना कर्फ्यू प्रभावी हो रहा है। लोग स्वतः आवागमन कम कर रहे हैं। वर्तमान में छह मई की प्रातः सात बजे तक आंशिक कोरोना कर्फ्यू लागू है और अब इसे 10 मई (सोमवार) को प्रातः सात बजे तक विस्तार दिया जा रहा है और सभी जिलों में इसे प्रभावी ढंग से लागू किया जाए।

प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में बुधवार को हुई अधिकारियों की बैठक में निर्देश दिये गये कि आंशिक कोरोना कर्फ्यू की अवधि में स्वास्थ्य सम्बन्धी कार्यों के लिए पूरी छूट रहेगी। उन्होंने बताया कि औद्योगिक गतिविधियां, ई-कॉमर्स से सम्बंधित कार्य यथावत चलते रहेंगे और राशन वितरण तथा टीकाकरण का कार्य सुचारू रूप से जारी रहेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे लोगों को कतई नहीं रोका जाए और पुलिस इनकी यथावश्यक मदद करे तथा विशेष परिस्थितियों के लिए ई-पास की व्यवस्था भी लागू की गई है।

प्रवक्ता ने बताया कि बीते 24 घंटों में 21,165 नए केस आए हैं, जबकि 40,852 लोग स्वस्थ हुए हैं। उन्होंने बताया कि टेस्ट के महत्व के अनुरूप प्रदेश में एग्रेसिव टेस्टिंग नीति अपनाई गई है।

उन्होंने बताया कि बीते 24 घंटों में 2,32,038 जांच हुयी है, इसमें से 1,13,000 जांच केवल आरटीपीसीआर माध्यम से हुए हैं और प्रदेश में अब तक 4,20,32,500 टेस्ट किए जा चुके हैं जो देश में किसी राज्य द्वारा किया गया सर्वाधिक कोविड टेस्ट है।

जफर

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)