देश की खबरें | छेत्री अपने पहले अनुबंध के लिए अग्रिम राशि मिलने के बाद बहुत खुश थे, बचपन के कोच साजिद ने कहा

नयी दिल्ली, 16 मई सुनील छेत्री के बचपन के कोच मोहम्मद साजिद ने बृहस्पतिवार को बताया कि जब 16 साल की उम्र में इस स्टार फुटबॉलर को दिल्ली के क्लब से करार के लिए 1000 रुपये की अग्रिम राशि दी गयी थी तो उनकी खुशी का कोई ठिकाना नहीं था।

भारत के इस महान कप्तान ने अपने संन्यास की घोषणा कर दी है। उन्होंने विकासपुरी में ममता मॉडर्न सीनियर सेकेंडरी स्कूल में दाखिला लिया था, जहां साजिद ने उनकी प्रतिभा देखी थी और छेत्री ने अपना फुटबॉल सफर शुरू किया था।

साजिद ने छेत्री को 6,500 रुपये का पहला क्लब अनुबंध देने की पेशकश की थी और इस खिलाड़ी ने अपने पहले ही साल उभरते हुए खिलाड़ी का पुरस्कार जीतकर छाप छोड़ी।

साजिद ने यहां अम्बेडकर स्टेडियम में पीटीआई से कहा, ‘‘हमारे सिटी फुटबॉल क्लब के खिलाड़ी नागेश्वर राव ने सुनील के साथ मेरी मुलाकात करायी। मुझे अब भी याद है कि मैंने उसे 6500 रुपये सालाना का अनुबंध दिया था और दिल्ली लीग और डूरंड कप में खेलने के लिए कहा था। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘जैसे ही मैंने उसे 1000 रुपये की अग्रिम राशि (टोकन राशि) दी तो वह बहुत खुश हो गया जैसे उसे लाखों रुपये का चेक मिल गया हो। वह बहुत खुश हुआ और मुझे कहा कि वह उन पैसों से अपने दोस्तों को पार्टी देना चाहता था। ’’

साजिद ने कहा, ‘‘ मुझे पहले दिन से ही लगा था कि उसे दिल्ली से बाहर पेशेवर फुटबॉल खेलनी चाहिए जो उसके लिए फायदेमंद होगा। ’’

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)