देश की खबरें | नयी दिल्ली में स्थित सभी नौ पुलिस कैंटीन को एफएसएसएआई का ‘ईट राइट कैंपस’ टैग मिला

नयी दिल्ली, 19 मई राष्ट्रीय राजधानी के नयी दिल्ली जिले में स्थित सभी नौ पुलिस कैंटीन को एफएसएसएआई ने ‘ईट राइट कैंपस’ टैग दिया है। शहर में यह टैग पाने वाला नयी दिल्ली पहला पुलिस जिला बन गया है।

‘ईट राइट इंडिया’ (भारत स्वस्थ्य खाओ) स्वास्थ्य मंत्रालय के तहत भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) की महत्वाकांक्षी योजना है। इसका लक्ष्य लोगों के लिए सुरक्षित, पोषक और गुणवत्तापूर्ण भोजन सुनिश्चित करना है।

इस साल फरवरी में नयी दिल्ली जिले के सभी पुलिस थानों... बी. के. रोड, कनॉट प्लेस, तिलक मार्ग और मंदिर मार्ग.. को एफएसएसएआई का ‘ईट राइट कैंपस’ टैग मिल गया है। इस प्रमाणपत्र का लक्ष्य भोजन में विविधता को बढ़ावा देना और पुलिसकर्मियों में जीवनशैली से जुड़ी बीमारियों (मधुमेह आदि) के बोझ को कम करना है।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि बाकी पांच पुलिस कैंटीन... संसद मार्ग, चाणक्यपुरी, तुगलक रोड, नॉर्थ एवेन्यू और डिप्लोमेटिक सिक्योरिटी फोर्स यूनिट को भी एफएसएसएआई का टैग मिल गया है। उन्होंने बताया कि साउथ एवेन्यू थाने में कोई कैंटीन नहीं है।

नयी दिल्ली की पुलिस उपायुक्त अमृता गुगुलोथ ने कहा, ‘‘हमार जिले के सभी नौ पुलिस थानों की कैंटीन को एफएसएसएआई से ‘ईट राइट कैंपस’ का टैग मिल गया है। वास्तव में ऐसा करने वाले हम पहले जनपद हैं।’’

उन्होंने कहा कि सामान्य तौर पर पुलिसकर्मियों को सही वक्त पर उचित भोजन नहीं मिल पाता है, लेकिन इसकी मदद से सभी पुलिसकर्मियों को उनके कार्यस्थल पर ही सेहतमंद, प्रोटीन और कार्बोहाइट्रेड युक्त स्वस्थ्य भोजन आसानी से उपलब्ध हो पा रहा है।

नयी दिल्ली पुलिस जिले की इन नौ कैंटीन में से सबसे ज्यादा पुलिसकर्मी संसद मार्ग थाने में हैं। इस कैंटीन में रोजाना कम से कम 250 से 300 कर्मियों को भोजन परोसा जाता है और संसद सत्र के दौरान 24 घंटों में करीब 3,000-3,500 पुलिसकर्मियों को भोजन परोसा जाता है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)