देश की खबरें | राहुल से भेंट के बाद कीर्ति चक्र से सम्माति कैप्टन की मां ने कहा- सेना को दो श्रेणियों में न बांटें

रायबरेली/लखनऊ (उप्र), नौ जुलाई लोकसभा में विपक्ष के नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को कीर्ति चक्र से सम्मानित कैप्टन अंशुमान सिंह की मां से मुलाकात की। सिंह की मां ने बाद में अग्निपथ योजना का विरोध करते हुए सरकार से सेना को दो श्रेणियों में नहीं बांटने का आग्रह किया।

शहीद कैप्टन की मां ने यह अपील ऐसे समय की है जब कांग्रेस नेता राहुल गांधी अग्निपथ योजना पर लगातार सवाल उठा रहे हैं। गांधी ने दावा किया है कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने संसद में शहीद अग्निवीरों के परिवारों को मुआवजे के मुद्दे पर 'झूठ' बोला है।

रायबरेली के एक गेस्ट हाउस में गांधी से मुलाकात के बाद दिवंगत कैप्टन अंशुमान सिंह की मां मंजू सिंह ने संवाददाताओं से कहा, "मैं सरकार से सेना को दो श्रेणियों में न बांटने का अनुरोध करती हूं।"

उन्होंने कहा कि चार साल की नौकरी उचित नहीं है, क्योंकि जिन अग्निवीरों को नौकरी से निकाल दिया जाएगा, उन्हें दूसरा उपयुक्त करियर खोजने के लिए संघर्ष करना पड़ेगा।

मंजू ने 2022 में जवानों की अल्पकालिक भर्ती के लिए शुरू की गई योजना पर भी चिंता जताई। उन्होंने कहा, "वे (अग्निवीर) चार साल बाद मानसिक और शारीरिक रूप से कमजोर हो जाएंगे, जिसके बाद वे अपनी पढ़ाई जारी नहीं रख पाएंगे... यह अच्छी बात नहीं है।"

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने गत पांच जुलाई को एक अलंकरण समारोह के दौरान उनके बेटे को मरणोपरांत भारत के दूसरे सबसे बड़े शांतिकालीन वीरता पुरस्कार कीर्ति चक्र से सम्मानित किया।

पिछले साल जुलाई में भीषण आग से लोगों को बचाते हुए कैप्टन अंशुमान सिंह शहीद हो गए थे।

राहुल गांधी ने दिल्ली लौटते समय कैप्टन अंशुमान सिंह की मां से मुलाकात के बारे में पूछे जाने पर संवाददाताओं से कहा कि वह इस मामले पर संसद में बात करेंगे।

गांधी ने लखनऊ में रहने वाले शहीद के परिवार को गेस्ट हाउस में मिलने के लिए बुलाया था। कांग्रेस नेता से मुलाकात के बाद दिवंगत कैप्टन की मां ने संवाददाताओं से कहा कि गांधी ने उनके परिवार को हर संभव सहायता का आश्वासन दिया।

मंजू के मुताबिक, "राहुल गांधी ने कहा कि उन्होंने सरकार से अग्निपथ योजना को समाप्त करने का अनुरोध किया है, क्योंकि यह सेना के लिए उपयुक्त नहीं है।"

लोकसभा में विपक्ष के नेता गांधी ने अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र रायबरेली की यात्रा के दौरान एम्स का भी दौरा किया और पार्टी कार्यकर्ताओं तथा अपने निर्वाचन क्षेत्र के स्थानीय निवासियों से मुलाकात की।

लखनऊ के चौधरी चरण सिंह हवाई अड्डे पर पहुंचने के बाद, गांधी सड़क मार्ग से रायबरेली के लिए रवाना हुए।

रायबरेली जाते समय गांधी बछरावां के पास चुरवा मंदिर में रुके और भगवान हनुमान की पूजा की।

कांग्रेस पार्टी ने सोशल मीडिया मंच 'एक्स' पर कहा, "राहुल गांधी ने चुरवा हनुमान मंदिर में पूजा की और देश की सुख, शांति और समृद्धि के लिए भगवान हनुमान से प्रार्थना की।"

स्थानीय पार्टी नेता ने कहा कि गांधी भुएमऊ गेस्ट हाउस पहुंचे, जहां उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं, भारतीय उद्योग संघ (आईआईए) के प्रतिनिधिमंडलों और स्थानीय लोगों से मुलाकात की।

उन्होंने लालगंज में शहीद स्मारक का दौरा किया और वहां पुष्पांजलि अर्पित की तथा एक पौधा लगाया।

गांधी ने हाल में संपन्न लोकसभा चुनावों में रायबरेली संसदीय सीट से 3.90 लाख से अधिक मतों के अंतर से जीत हासिल की थी।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)