देश की खबरें | पूर्व मध्य रेल के 4654 कर्मचारी संक्रमित, अभी तक करीब 33 प्रतिशत कर्मचारियों का हुआ है टीकाकरण

पटना, तीन मई कोरोना महामारी की दूसरी लहर में पूर्व मध्य रेल (ईसीआर) के अबतक 4654 कर्मचारी संक्रमित हो चुके हैं जबकि करीब 33 प्रतिशत कर्मचारियों का अभी तक टीकाकरण हो पाया है ।

पूर्व मध्य रेल सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक अभी तक ईसीआर के 4654 कर्मचारी संक्रमित हुए हैं, जिनमें से 123 की मौत हो गयी है जबकि 2161 का इलाज चल रहा है।

बिहार के वैशाली जिला मुख्यालय हाजीपुर स्थित ईसीआर के मुख्यालय में कार्यरत पटना शहर स्थित सेंटर सुपर स्पेशियालिस्ट अस्पताल में भर्ती कराए गए 707, दानापुर डिवीजन में 647, सोनपुर डिवीजन में 724 और समस्तीपुर डिवीजन में 522, पडोसी राज्य झारखंड में पडने वाले धनबाद डिवीजन में 723 तथा उत्तरप्रदेश में पडने वाले पंडित दीन दयाल उपाध्याय डिवीजन में 1331 अधिकारी और कर्मचारी अबतक संक्रमित हुए हैं।

ईसीआर में करीब 80 हजार कर्मचारी कार्यरत हैं, जिनमें से महामारी की इस दूसरी लहर में कुल 556 रनिंग स्टाफ (लोको पायलट, सहायक लोको पायलट एवं गार्ड) अबतक संक्रमित हो चुके हैं जिनकी ट्रेनों के परिचालन में अहम भूमिका होती है।

ईसीआर के वर्तमान में उपचाराधीन 2161 मरीजों में 230 लोको पायलट, 229 सहायक लोको पायलट, 194 गार्ड तथा 230 स्टेशन मास्टर शामिल हैं ।

ईसीआर में टीकाकरण की स्थिति पर नजर डालें तो समस्तीपुर डिवीजन में मात्र 33 प्रतिशत, धनबाद डिवीजन में 39 प्रतिशत, पंडित दीन दयाल उपाध्याय डिवीजन में 20.76 प्रतिशत, दानापुर डिवीजन में 29 प्रतिशत और सोनेपुर डिवीजन में 43 प्रतिशत कर्मचारियों का ही अबतक टीकाकरण हो पाया है।

ईसीआर होते हुए वर्तमान में 251 मेल-एक्सप्रेस तथा 81 पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन किया जा रहा है।

दुर्गापुर स्टील प्लांट से दिल्ली के लिए दो ऑक्सीजन एक्सप्रेस, जमशेदपुर से लखनऊ के लिए एक तथा बोकारो स्टील प्लांट से लखनऊ के लिए 10 ऑॅक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों का ईसीआर होकर अबतक परिचालन किया गया है ।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)